Christmas Essay In Hindi आज के इस पोस्ट में हम पुरी दुनिया में मनाया जाने वाला त्योहार क्रिसमस पर निबंध पढ़ने वाले है क्रिसमस ईसाईओं का महत्वपूर्ण त्योहार है

क्रिसमस के बारे में पूरी जानकारी जानने के लिए आप यह पोस्ट पुरा पढे तो चलिए जानते है Christmas Par Nibandh In Hindi में

Christmas Essay In Hindi

क्रिसमस पर निबंध - Christmas Essay In Hindi

भारत में विविध धर्मों के लोगों रहते है हिंन्दु, मुस्लिम, सिख, ईसाई, पारसी आदि और सबका अपना अपना महत्वपूर्ण त्योहार होता है जैसे हिन्दू धर्म के लोगों के लिए दशहरा और दीपावली बहुत ही महत्वपूर्ण त्योहार है वैसे ही क्रिसमस ईसाईओं का महत्वपूर्ण त्योहार है

क्रिसमस हर साल 25 दिसम्बर को मनाया जाता है क्योंकि इस दिन बेथलेहम गांव में ईसा मसीह का जन्म हुआ था उनके पिता का नाम जोसेफ और माता का नाम मेरी था

ईसा मसीह ईसाई धर्म के संस्थापक थे वो एक महान व्यक्ति थे जो लोगों के दुःख दुर करते थे और एक दूसरे से मिलजुल कर प्यार से रहना सिखातें थे ईसाई धर्म के लोग ईसा मसीह को ईश्वर का बेटा मानते थे

ईसा मसीह दुनिया में से दुःख, अंधविश्वास, अज्ञानता आदि को खत्म करने की कोशिश करते थे और समाज सुधारक कार्य करते थे शुरू आत में उनको बहुत परेशानी झेलनी पड़ी थी लेकिन धीरे-धीरे उनके साथ और लोग जुड़ते गए 

ईसा मसीह ने पाखंडी धर्मगुरुओं की सच्चाई लोगों को बता कर लोगों को जीवन जीने का सच्चा और अच्छा रास्ता बताया और इस तरह ईसा मसीह की लोकप्रियता बढ़ती गई और यह देख कर पाखंडी धर्मगुरुओं ने राजा को ईसा मसीह के बारे में गलत बातें बोल कर राजा के द्वारा ईसा मसीह को सूली पर चढ़ा दिया गया 

ईसा मसीह ने अपने जीवन में ऐसे कई चमत्कार किये जो एक सामान्य मनुष्य के लिए असंभव थे कहा जाता है उनके पास ईश्वर की दि हुई दिव्य शक्ति थी 

ईसा मसीह की याद में हर साल 25 दिसम्बर को ईसाई धर्म के लोग क्रिसमस डे त्योहार बहुत धुम धाम से मनाते है

क्रिसमस-डे आने के कुछ दिन पहले ही लोग अपने घरों को और चर्च को सजाने लगते है क्रिसमस-डे के दिन सभी लोग नये कपड़े पहनते है और चर्च में जाते हैं और भगवान यीशु से प्रार्थना करते है इसके बाद

लोग एक दुसरे के घर जाते उनको मिलते है और एक दूसरे को भेंट देते है लोग अपने घर कई प्रकार के व्यंजन बनाते है

ईसाई धर्म के लोगों के लिए क्रिसमस ट्री बहुत ही महत्वपूर्ण होता है वो इस दिन अपने घर के आगे क्रिसमस ट्री लगाकर ईसा मसीह से प्रार्थना करते है और उनसे अपनी गलतियों की क्षमा मांगते है और फिर क्रिसमस ट्री के आसपास नाचते गाते हैं

क्रिसमस के दिन चर्च में रात्रि के 12 बजे तक पूजा की जाती है इस दिन लोग ठीक रात्रि के 12 बजें अपने घर मोहल्ले में केक काटकर एक दूसरे को क्रिसमस की बधाई देते हैं और मेरी क्रिसमस कहते हैं

इस दिन सांता क्लोज़ आता है और बच्चों को अच्छी अच्छी गिफ्ट्स देकर जाता है और इस तरह लोग क्रिसमस-डे को ईसा मसीह की याद में बहुत ही आनंद और उत्साह से मनाते है

क्रिसमस डे हर साल 25 दिसंबर को ही मनाया जाता है क्योंकि इस दिन भगवान ईसा मसीह का जन्म हुआ था। ईसा मसीह एक महान व्यक्ति थे जो ऊंच नीच के भेदभाव को नहीं मानते थे और सादा जीवन जीते थे

क्रिसमस सिर्फ ईसाई धर्म के लोगों का ही नहीं सभी धर्म के लोगों का त्योहार है इस दिन चर्च में ईसाई धर्म के लोगों के अलावा अन्य धर्म के लोग भी जाते हैं और भगवान ईसा मसीह से प्रार्थना करते हैं

अतः भगवान ईसा मसीह के उद्देश्य पे चलते हुए यह ऊंच नीच के भेदभाव को भुलाकर सभी लोग एक दुसरे से मिलकर रहे


Merry Christmas

यह जरुर पढ़े :-

मुझे आशा है कि आपको Christmas Essay In Hindi इसके बारे में जानकारी आपको हमारे आर्टिकल से मिल गई होगी

यदि आपके मन में कोई सवाल है तो Comment करके जरूर बताएं में उसका जवाब देने की पुरी कोशिश करुंगा और आपको हमारा यह पोस्ट केसा लगा यह भी Comment करके बताना मेरा आप लोगों से Request है कि

यदि आपको मेरा यह पोस्ट अच्छा लगा है और इससे आपको कुछ जानने को मिला है और लगता है यह जानकारी अन्य लोगों को भी मिलनी चाहिए है तो इसे आप Social Media पर जरुर Share कीजिये जिससे इसकी जानकारी और भी लोगों को मिले और वो भी जान सके कि क्रिसमस पर निबंध के बारे में

Post a Comment

Previous Post Next Post